दीदी के साथ चुदाई की कहानियाँ hindi stories

चुदाई कहानी, didi ke sath chudai xxx stories, दीदी की चुदाई hindi sex story, शादीशुदा दीदी की प्यास बुझाई Chudai kahani, दीदी को चोदा real sex story, हिंदी सेक्स कहानी, didi ki chudai, दीदी के साथ चुदाई sex kahani, दीदी के साथ सेक्स की कहानी, didi ko choda xxx hindi story,

मेरी दीदी पूजा उसकी शादी को हुए २ साल हो गए थे और दीदी अपने पूरे परिवार के साथ कुरुक्षेत्र में रहती थी. उनके परिवार में उनके सास, ससुर, २ देवर, २ ननंदे हैं और मेरे जीजाजी.दीदी की दो ननंद में से एक जिसका नाम सीमा है वह २७ साल की मेरिड लड़की थी और दूसरी और दूसरी पूजा जो कि १८ साल की थी और कमाल का पटाखा थी. उसे जो भी कोई देखता था तो उसके लंड में पानी आ जाता था, जैसे मेरे लंड में भी आ गया.पूजा का कातिलाना फिगर बहुत मस्त था और उसके बूब्स तो मानो बड़े बड़े संतरे जैसे हो और उसकी कमर पर तो लड़कों की नजरें टिकी हुई थी, और उसकी गांड तो मानो जैसे किसी लड़के को खड़ा खड़ा ही गिला कर दे. यही खासियत थी जिसकी वजह से मैं पूजा पर मरता था.
didi ke sath chudai hindi stories
दीदी के साथ चुदाई की कहानियाँ hindi stories
मैंने कभी सेक्स नहीं किया था पर सेक्स की पूरी नॉलेज मुझे पहले से ही थी. मैं भी फ्री था क्योंकि मेरी फाइनल ईयर के एग्जाम का रिजल्ट नहीं आया था इसलिए मैं अपनी दीदी के घर आ गया.मेरे जीजाजी एक बहुत बड़े बिजनेसमैन है और वह काम के सिलसिले में अधिकतर बाहर ही रहते हैं.मेरी और पूजा की बहुत बनती है. मैं उसे चोदना चाहता था और आपने रब ने मेरी जल्दी सुन ली, तब मेरे जीजाजी ५ दिन के लिए बिजनेस से टूर पर चले गए थे और दीदी के देवर भी कॉलेज की तरफ से ट्रिप पर गए हुए थे, अब घर पर में, दीदी, पूजा और उसकी सास थी.दीदी की सास का ऑपरेशन होना था इसलिए दीदी अब उन्हें ३ दिन के लिए हॉस्पिटल ले गई. अब में और पूजा घर पर बिल्कुल अकेले थे, और पूजा ने भी घर का काम खत्म करके खाना बना कर फ्री हो गई थी और हमने एक साथ बैठकर खाना खाया. और टीवी देखते देखते खत्म कर दिया, और फिर थोड़ी देर बाद में टीवी बंद कर दिया और सो गए.ये सेक्स कहानी आप चुदाई कहानी डॉट नेट पर पड़ रहे है।मुझे नींद नहीं आई और मैं थोड़ी देर बाद उठ कर पूजा को देखा तो वह सो रही थी. पर मेरा मन उसे छेड़ने का कर रहा था, इसलिए मैंने उसे पीछे से जप्पी दी और अपने हाथ उसके बूब पर लेकर दबाने लगा, और इधर मेरा लंड उसकी गांड के छेद पर लग कर भड़क हो गया था और गांड के छेद में जाने को तैयार हो गया था. मैं उसकी गांड की बीच की लकीर में लंड फसा कर रगड़ रहा था.तभी पूजा की आंख खुली और मैं एक दम से घबरा गया और पीछे हो गया. पर मैंने देखा पूजा ने कुछ नहीं कहा, तो फिर मैंने फिर से उसे पिछे से जप्पी दे दी और उसके बूब्स दबाने लगा,पूजा ने कहा आई लव यू राजेश.मैने कहा आई लव यू टू पूजा.अब मैंने उसे किस करना और काटना शुरु कर दिया, कभी उसके लिप पर किस करता तो कभी उसकी गर्दन पर जिससे पूजा मदहोश होने लगी, अपनी आंखें बंद करके उसका मजा लेने लगी.

अब मैंने उसके कपड़े उतार दिए और वह मेरे सामने ब्रा पैंटी में भी बहुत सेक्सी लग रही थी. मैंने भी अपने कपड़े उतारकर अंडर वियर में आ गया. और मेरा लंड उसकी चुदाई के लिए भी खड़ा था इसलिए मैं उसके बूब्स मुंह में डाल कर चूसने लग गया और पुजा मेरा लंड अपने हाथ में लेकर हिलाने लग गई.यह करीब १ घंटे तक चलता रहा और हम दोनों एक दूसरे को प्यार करने में मदहोश होते रहे और फिर मैंने धीरे से उसकी पेंटी उतार दी और उसकी चूत को निहारने लगा. चूत चिकनी और मुलायम थी और बालों से ढकी हुई थी, फिर हम वाशरूम गए और बाल साफ कीये और फ्रेश हो गए, फिर हम बेड पर आ कर लेट गये.अब मेरा सुपाडा भी तैयार था पर मैंने पहले उसकी चूत को जोरदार चाटा और वह भी मेरा साथ देने लगी, वह अपनी गांड उठा उठा कर मेरे मुंह को अपनी चूत चूसवा रही थी, जिससे मुझे भी बहुत मजा आ रहा था. करीब ५ मिनट बाद उसका शरीर अकड़ गया और उसने अपना सारा पानी मेरे मुह पर निकाल दिया और मैं उस पानी को पी गया इसका स्वाद बहुत ही मस्त था..ये सेक्स कहानी आप चुदाई कहानी डॉट नेट पर पड़ रहे है।मैंने दीदी की चूत को गीला तो कर दिया था इसलिए अपना सुपाडा उसकी चूत पर सेट किया और बूब्स को पकड़कर एक जोरदार धक्का दिया जिससे पूजा एकदम चीख पड़ी औउ ईई अय्य्य औउ इई अह्ह्ह हहह अहह अम्म्म मम्मी मर गई.उसकी लगातार ऐसी चीख सुनकर मुझे डर लगने लग गया कि कहीं खड़े लंड पर धोखा ना हो जाए इसलिए मैंने उसकी आवाज बंद करने के लिए अपने होंठ उसके होंठ में डाल दीए और अपनी जीभ उसके मुंह में डाल दी, जीसे पूजा मजे ले लेकर चूस रही थी. मैंने भी अपना लंड धीरे से एक और धक्का देकर आधे से ज्यादा अन्दर कर दिया और फिर एक जोरदार धक्का लगा कर पूरा लंड उसकी चूत में उतार दिया जिससे उसकी आवाज से फिर से निकलने लगी.पूजा की चूत में से खून निकलने लग गया था जिससे उसकी सील टूट गई थी. अब में भी उसकी चूत लगातार जोर जोर से चोद रहा था इससे उसे भी मजा आ रहा था. और करीब १० मिनट बाद हम दोनों का पानी एक साथ ही निकल गया, और मैंने अपना पानी उसकी गर्म चूत में ही निकाल दिया..उस रात मैंने पूजा को तीन बार चोदा और जब की मौका मिलता है चोद डालता हूं. कैसी लगी हम दीदी की चुदाई , अच्छा लगी तो शेयर करना , अगर कोई मेरी दीदी के साथ सेक्स करना चाहते हैं तो उसे अब जोड़ना chudai ki pyasi didi

1 comments:

Chudai kahani in facebook

Delicious Digg Facebook Favorites More Stumbleupon Twitter